ललितपुर, उत्तर प्रदेश

sand

Sand

1. ललितपुर की खनिज संपदा

ग्रेनाइट: ग्रेनाइट एक आग्नेय (इग्नेयस) पाषाण है जिसकी बनावट मणिभीय दानेदार शिला की होती है। ग्रेनाइट के प्रमुख अवयव स्फटिक (quartz) और फेल्स्पार (feldspar) हैं जिसके साथ-साथ इसमें अन्य खनिज जैसे कि अभ्रक (mica), ऐम्फिबोल्स (amphiboles) इत्यादि। ग्रेनाइट की खनिजीकी के आधार पर इसका रंग लाल, गुलाबी, ग्रे या सफ़ेद इत्यादि होता है।

मौरम: मौरम एक लघु खनिज है जो ग्रेनाइट चट्टानों के अपक्षय एवं विघटन से प्राप्त होता है | एक अन्य प्रकार का मौरम, जो “लाल मौरम” कहलाता है, वह वास्तव में लेटराइट मिट्टी है जो ऊंचे धरातलीय भागों की सतह पर पायी जाती है, यह काफी पुराने चट्टानीय अपक्षय से बना होता है | इन मिट्टियों का प्रयोग कच्ची सड़कों पर बिछाने के लिए किया जाता है |

पाइरोफ़िलाइट: पाइरोफ़िलाइट एक फायलोसिलिकेट खनिज है जो एल्यूमीनियम सिलिकेट हाइड्रॉक्साइड से बना होता है। यह प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में पाइरोफ़िलाइट के साथ पाया जाता है। आमतौर पर पाइरोफ़िलाइट में 4 से 10% डायसपोर पाया जाता है। पाइरोफ़िलाइट के विभिन्न वर्गों का इस्तेमाल रबड़, कागज और साबुन में भराव के रूप में इत्यादि में किया जाता है।

बलुआ पत्थर: बलुआ पत्थर बालू के आकार के समान खनिज, शैल अथवा जैविक पदार्थों से बना होता है। इसमें समाहित अपमिश्रण के अनुसार यह किसी भी रंग का हो सकता है परंतु यह आमतौर पर भूरे, पीले, ग्रे, गुलाबी, सफ़ेद तथा काले रंग में पाया जाता है। पत्थरों एवं गिट्टियों के निर्माण हेतु बलुआ पत्थर को बड़े पैमाने पर उत्खनित किया जाता है।


2. खान अधिकारी का विवरण

क्र. सं. अधिकारी का नाम पदनाम संपर्क विवरण कार्यालय का पता
  श्री नवीन कुमार दास भू-वैज्ञानिक / अधिकारी-प्रभारी lalitpurdgmmo@gmail.com
8887534827
-

3. खनिज वार लीज विवरण